Category Archives: osho

वासना से मुक्त होने का एक ही उपाय है: उसे जान लो। ओशो

किसी सुंदर युवती को देखकर जाने क्यों मन उसकी ओर आकर्षित हो जाता है, आंखें उसे निहारने लगती हैं! मेरी उम्र पचास हो गई है, फिर भी ऐसा क्यों होता है? क्या यह वासना है, या प्रेम, या सुंदरता की … Continue reading

Posted in Articles on Health, ओशो, मानसिक तनाव, स्वास्थ, Hindi Articles, Holistic Healing, osho | Leave a comment

नशा

प्रेम जीवन में न हो तो मस्‍तिष्‍क रूग्‍ण होगा। चिंता से भरेगा, आदमी शराब पियेगा। नशा करेगा। कहीं जाकर अपने को भूल जाना चाहेगा। दुनिया में बढ़ती हुई शराब शराबियों के कारण नहीं है। परिवार ने उस हालत में ला … Continue reading

Posted in ओशो, स्वास्थ, depression, Herbs, Hindi Articles, Holistic Healing, osho, personality | Leave a comment

No animal needs glasses. It is very strange why man needs glasses.

I REMEMBER YOU TALKING ABOUT EYES AND LOOKING INTO PEOPLE’S EYES AND HIDING THROUGH NOT LOOKING DIRECTLY INTO SOMEONE’S EYES. AFTER THIS DISCOURSE I DROPPED MY GLASSES, WHICH I HAVE HAD SINCE I WAS ONE YEAR OLD. NOT WEARING THEM, … Continue reading

Posted in Articles on Health, ओशो, Holistic Healing, osho | Leave a comment

“Without Illness No Health is Possible” – OSHO

Illness and health are two sides of the same coin. Without illness health has no meaning. Osho says passing through the opposite brings about freshness and rejuvenation. “A healthy person is bound to fall ill sometimes. But you have different … Continue reading

Posted in Articles on Health, Articles on Meditations, ओशो, स्वास्थ, osho | Leave a comment

आदतें — क्या सिगरेट पीना पाप है ?

मैं लगातार रूप से सिगरेट पीने की आदत नहीं छोड़ सकता। मैंने बहुत कोशिश की पर असफल रहा। क्या सिगरेट पीना पाप है? राई का पर्वत मत बनाओ! धार्मिक व्यक्ति ऐसा करने में बहुत कुशल है। वास्तव में तुम क्या … Continue reading

Posted in Articles on Health, Articles on Meditations, ओशो, मानसिक तनाव, स्वास्थ, Hindi Articles, osho | Leave a comment

Bomb Blasts at Mahabodhi Temple in Bodh Gaya

A heinous serial bomb blast took place at the serene Mahabodhi temple in Bodh Gaya on early Sunday morning, July 07, 2013. According to Asian Age, two monks were injured by nine of thirteen bombs that were planted. They were … Continue reading

Posted in osho | Tagged , | 1 Comment

KEDARNATH TEMPLE : A Darshan of Garbage

Amrit Sadhana writes on July 2, 2013 in the Deccan Herald, India: (Picture for representational purposes only.) Osho said, “Godliness is next to cleanliness” and I could understand this Osho idiom when I saw pictures of the oceanic garbage in … Continue reading

Posted in osho | Tagged , | 1 Comment

आप हजारों लोगों को संन्यास क्यों दे रहे हो ?

    आखिरी सवाल : आप हजारों लोगों को संन्यास क्यों दे रहे हो? 23.11.1978 के प्रवचन का अंतिम प्रश्न !! ••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••• ओशो : संन्यास का अर्थ जानते हो? संन्यास का अर्थ है–मेरा अर्थ–जीवन को जीने की कला। जीवन को … Continue reading

Posted in Articles on Meditations, ओशो, मानसिक तनाव, Hindi Articles, Holistic Healing, osho | Leave a comment

बच्चों को रोने से न रोकें….सब तरह का रोना थेराप्यूटिक है। — ओशो

  बच्चों को रोने से न रोकें….मनोवैज्ञानिक कहते हैं कि बच्चे के रोने की जो कला है, वह उसके तनाव से मुक्त होने की व्यवस्था है और बच्चे पर बहुत तनाव है। बच्चे को भूख लगी है और मां दूर … Continue reading

Posted in Articles on Health, ओशो, मानसिक तनाव, स्वास्थ, Hindi Articles, osho | Leave a comment

वस्तुतः मन ही रोग है. मन से मुक्ति ही स्वास्थ्य है…….

मन से मन को नही जाना जा सकता. जिस तरह आँखों से आँखों को नहीं देखा जा सकता. मन को वही जानता है या जान सकता है जो मन के पार हो. अन्यथा मन कभी भी स्वयं की पोल नही … Continue reading

Posted in Articles on Health, Articles on Meditations, ओशो, मानसिक तनाव, स्वास्थ, Hindi Articles, Holistic Healing, osho | Leave a comment